Bachelor Of Commerce (B.Com) क्या है? बी.कॉम कोर्स कैसे करे? B.Com Full Form, Course, Subjects, Syllabus, Colleges, Salary की पूरी जानकारी हिंदी में

b.com course in hindi? एकबार फिर से हमारे ब्लॉग Study Holic में आपका स्वागत है। क्या आपको भी अकाउंट और आंकड़ों से खलेना पसंद है और आप अभी 12वी या 11वी कॉमर्स में है और इसमें करियर बनाना चाहते है?

तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए है। आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स क्या है?(What is a Bachelor of Commerce course details in Hindi?), बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स कैसे करें?(How to do Bachelor of Commerce course details in Hindi?), बैचलर ऑफ़ कॉमर्स की योग्यता क्या है?(What is the qualification of B.Com Course?) बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद करियर? (Career after Bachelor of Commerce course?) B.Com Course की और भी बहुत सी जानकारी आप जानेंगे। तो चलिए शुरुआत करते है।

बी.कॉम कोर्स क्या होता है? What is B.Com Course Details in Hindi?

What is B.Com Course Details in Hindi
What is B.Com Course Details in Hindi

B.Com Course का फूल फॉर्म “Bachelor of Commerce” होता है। यह एक तीन साल का ग्रेजुएट कोर्स है। देखा जाए तो B.Com कॉमर्स स्ट्रीम का सबसे बड़ा और पॉपुलर कोर्स है। इस कोर्स को आप 12वी में कॉमर्स विषय के साथ पास होने के बाद कर सकते है।

बीकॉम कोर्स  उन सभी के लिए सबसे अच्छा विकल्प है जो व्यावसायिक, बैंकिंग, बीमा जैसे क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए उत्सुक हैं। दूसरी बात कि बीकॉम उन सभी के लिए एक अच्छा कोर्स है जो चार्टर्ड अकाउंटेंसी (सीए) और कंपनी सेक्रेटरीशिप (सीएस) जैसे बिजनेस में अपने आप को आगे बढ़ाना चाहते हैं।

बी.कॉम कोर्स कैसे करें? – How to do B.Com Course?

यदि आप भी B.Com Course को करना चाहते है और आप को इस बात की जानकारी नहीं है कि बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स को कैसे करे?, तो उसकी सारी जानकारी नीचे बताई हुई है। जिसे पढ़ने के बाद B.Com course से जुडी सभी जानकारी मिल जाएगी|

बी.कॉम पाठ्यक्रम योग्यता – B.Com courses qualification

बीकॉम कोर्स भारत में ज्यादातर सभी यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में आप कर सकते है। लेकिन इसके लिए आपको B.Com courses कि योग्यता को पूरी करना जरूरी है। यदि बेचलर ऑफ कॉमर्स करना चाहते है तक आपको 11वीं और 12वीं कक्षा में अकाउंटेंसी, बिजनेस स्टडीज, इकोनॉमिक्स, मैथ्स और अंग्रेजी विषय के साथ पास होना जरूरी है।

आप जिस कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं उस कॉलेज के कट ऑफ को भी पूरा करना जरूरी है। फिर भी आपको 12वी कक्षा में कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास हो तो आपके लिए अच्छा है।

बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स एडमिशन प्रोसेस – B.Com Course Admission Process

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स में ज्यादातर एडमिशन मेरिट लिस्ट (12 वीं कक्षा में उत्तीर्ण मार्क्स) के आधार पर किया जाता है। फिर भी कुछ प्रसिद्ध कॉलेज है जो अपनी एंट्रेंस एग्जाम लेते है जिसे आपको देना जरूरी है।

जब आप उनकी एंट्रेंस एग्जाम देते है उसके बाद उनकी मेरिट लिस्ट जारी की जाती है। जब आप इस मेरिट लिस्ट में आते है तो ही आप अपनी पसंदीदा कॉलेज में एडमिशन ले सकते है।

बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स की प्रवेश परीक्षा – Bachelor of Commerce course entrance exam

आज कॉमर्स भारत में दूसरे नंबर की पसंदीदा स्ट्रीम है। जिसमे 12वीं के बाद बहुत से बच्चे कॉलेज में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम देते हैं। एंट्रेंस एग्जाम की लिस्ट नीचे दी गई है जैसे की….

  • IPU CET (Indraprastha University Common Entrance Test)
  • DUET (Delhi University Entrance Test)
  • CUET (Christ University Entrance Test)

बी.कॉम के बाद आगे की पढ़ाई – Further studies after B.Com

यदि आपने बेचलर ऑफ कॉमर्स कम्पलीट कर लिया है और आप अपने आप को और ज्यादा मास्टर करना चाहते है तो इसके लिए आप आगे पढ़ाई कर सकते है। बेचलर ऑफ कॉमर्स पढ़ाई पूरी करने के बाद आप चाहे तो एमकॉम, एमबीए, एमसीए या फिर एलएलबी जैसे पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए पढ़ाई कर सकते है।

बी.कॉम कोर्स के बाद कैरियर और नौकरी – Career and job after B.Com

आज के समय में देखा गया है कि युवा पीड़ी दूसरे लोगो के वहां नौकरी करने के बजाय खुद का बिजनेस स्टार्ट करना पसंद करते है| ऐसे में यदि आपने बीकॉम किया है तो आप नौकरी के साथ साथ अपना खुद का बिजनेस भी स्टार्ट कर सकते है।

यदि खुद का बिजनेस की बात करे तो आप Business Development Trainee, कंसल्टेंट, लेखक और इकोनॉमिस्ट बन सकते है। इसके अलावा यदि आप जॉब करना चाहते है तो इसके लिए भी ऑप्शन है जैसे कि Accountant, स्टॉक ब्रोकर, बिजनेस एनालिस्ट, फाइनेंस ऑफिसर, sales एनालिस्ट, टैक्स अकाउंटेंट बनकर जॉब कर सकते है।

Bachelor of Commerce Course से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q-1. B.Com course full form क्या है?

B.Com full form Bachelor Of Commerce (बेचलर ऑफ कॉमर्स) होता है|

Q-2. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद कितनी सैलरी मिल सकती है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स को करने के बाद आसानी से 2 लाख से लेकर 5 लाख प्रति वर्ष या फिर इससे ज्यादा कमाई कर सकते है। यह सेलरी आपके जॉब पोस्ट आपके अनुभव और आपकी कौशल(Skill) पर आधारित है।

Q-3. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स कितने साल का कोर्स है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स 3 साल का कोर्स होता है। जिसे आप रेगुलर भी कर सकते है और डिस्टेंस लर्निंग भी कर सकते है।

Q-4. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स कब कर सकते है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स को आप 12वी कॉमर्स के बाद कर सकते है। इसके लिए आपको 12वी कॉमर्स में कम से कम 50% मार्क्स के साथ पास होना जरूरी है।

Q-5. बैचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स की फीस कितनी होती है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स की फीस अलग-अलग कॉलेज पर आधारित है। यदि आप इस कोर्स को प्राइवेट कॉलेज में करते है तो ज्यादा फीस होगी वहीं गवर्नमेंट कॉलेज में करते है तो इस कोर्स कि फीस कम होगी।

Q-6. बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद क्या आगे पढ़ाई कर सकते है?

बेचलर ऑफ कॉमर्स कोर्स के बाद आप CA,एमकॉम, MBA,एमसीए और बिजनेस लो में आगे पढ़ाई कर सकते है।

Q-7. बेचलर ऑफ कॉमर्स में क्या विषय पढ़ाए जाते हैं?

बेचलर ऑफ कॉमर्स में आपको कॉर्पोरेट टैक्स, अर्थशास्त्र, फाइनेंशियल लॉ, फाइनेंशियल अकाउंट, बिजनेस लॉ, शेयर बाजार, फाइनेंशियल प्रबंधन जैसे विषय के बारे में पढ़ाया जाता है।

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में आपने जाना कि B.Com course Kya hai?(What Is B.Com Course Information In Hindi) B.Com course के लिए योग्यता क्या है?(How To Do B.Com Full Details In Hindi), (Qualification, Job Full Details Information In Hindi) कैसे आप B.Com course में एडमिशन ले सकते है। B.Com course को करने के लिए कोन सी एंट्रेंस एग्जाम देना होगा

मुझे उम्मीद है की में आपको आपका सारे सवालों के जवाब मिल चुके होगे। इस आर्टिकल में मैंने B.Com कोर्स के बारे में बहुत डिटेल्स में जानकारी देने का कोशिश की है। यदि आपको इस कोर्स से जुड़े कोई सवाल है तो नीचे कॉमेंट बॉक्स में जरूर बताए।

Leave a Comment